Facebook

Vigyan Kavi Sammelan (H)

आमतौर पर हम वीर-रस, श्रृंगार-रस, भक्ति-रस से सराबोर कविताओं को पढ़ते और सुनते आए हैं, आइए 'विज्ञानिका' के इस अंक में विज्ञान-रस में रची गयी कविताओं का आनंद लीजिये। जिन मूर्धन्य कवियों ने वैज्ञानिक चेतना से लैस कविताओं का पाठ किया, वे हैं - पंडित सुरेश नीरव, यशपाल सिंह और सुनीता सिक्का बहल।