Science Communication in Maithili language (H)

राष्ट्रीय विज्ञान, प्रौद्योगिकी और नवाचार नीति का एक लक्ष्य ये भी है कि क्षेत्रीय भाषाओं के द्वारा विज्ञान को जन-जन तक पहुंचाया जाए। विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग का स्वायत्त संस्थान विज्ञान प्रसार यही काम कर रहा है। विज्ञान लोकप्रियकरण की दिशा में अब विज्ञान प्रसार ने मैथिली भाषा को भी शामिल कर लिया है। इसी के तहत हाल ही में विज्ञान प्रसार ने एक कार्यशाला आयोजित कर आगे की रूपरेखा तैयार करने की पहल की है।