India's Corona Vaccine Portfolio: Life in Science with Pallava Bagla (H)

भारत का कोरोना वैक्सीन पोर्टफोलियो आज हम सब के मन में सबसे बड़ा सवाल ये है, कि कोविड 19 का टीका भारत में कितनी जल्दी उपलब्ध होगा? इस समय भारत में टीका बनाने वाले लगभग 30 दावेदार हैं, जिनमें से लगभग आधा दर्जन मानव नैदानिक परीक्षणों तक पहुंच चुके हैं। कोविड -19 वैक्सीन के परिदृश्य का अवलोकन करने के लिए, हमने डॉ. रेणु स्वरूप से बात की, वे एक आनुवांशिकी वैज्ञानिक हैं और वैक्सीन के विकास में प्रधान मंत्री को रिपोर्ट करने वाले शीर्ष अधिकारियों में शामिल हैं। भारत की प्रमुख प्रयोगशाला राष्ट्रीय प्रतिरक्षा विज्ञान संस्थान, नई दिल्ली में किए जा रहे काम पर हमने एक नजर डाली जहां डॉ. अमूल्य के पांडा ने प्रोटीन इम्यूनो-इंजीनियरिंग पर होने वाले काम के बारे में बताया, कि टीके के विकास के लिए कैसे भारतीय आरएंडडी प्रणाली ने वर्षों के काम को महीनों में कर दिखाया। क्या हमने इन नए टीकों का पर्याप्त परीक्षण किया है? क्या एम-आरएनए और डीएनए के नए प्लेटफार्म सुरक्षित हैं? डॉ. स्वरूप का कहना है कि मंजूरी मिलने पर वह स्वयं भारत में बने टीके को लगवायेंगी। इसी गहरी उम्मीद के साथ, देखिए इम्यूनोलॉजी संस्थान की हमारी ये यात्रा।

Related Videos